ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
तालकटोरा इंस्पेक्टर का सराहनीय कार्य पेश की मानवता की मिसाल
May 23, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
पुष्पेंद्र सिंह सवांददाता दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ
राजधानी लखनऊ में ब्रह्स्पतिवार को तालकटोरा थाना क्षेत्र में एक बारह-तेरह साल का बालक पुलिस को लावारिस हालत में मिला। पुलिस बालक को अपने साथ थाने ले आई। थाना प्रभारी तालकटोरा धनंजय सिंह ने जब बालक से उसके घर परिवार के बारे में पूछा तो उसने अपना नाम सोहन पुत्र मोनू गांव का नाम बड़गो थाना धनघटा संतकबीरनगर बताया। बालक से लखनऊ आने का कारण पूछने पर उसने बताया कि वह अपनी सौतेली माँ के अत्याचारों से तंग  होकर घर से भाग आया था। थाना प्रभारी धनंजय सिंह ने बालके द्वारा बताए गए पते के आधार पर धनघटा थाने पर बात करके बालक के घर पर सूचना देने के लिए कहा। सूचना पाकर शुक्रवार को तालकटोरा थाने पहुंचे बालक सोहन के पिता मोनू ने बताया कि वह एक गरीब आदमी है। सोहन अपनी सौतेली माँ के कारण घर से भाग आया था। सूचना पा कर वह लोगों से दो तीन सौ रुपये मांग कर किसी तरह लखनऊ पहुंचे है। थाना प्रभारी धनंजय सिंह ने दोनों पिता पुत्र के खाने पीने की व्यवस्था करने के साथ अपने पास से एक हजार रुपये की आर्थिक मदद भी करी। इंस्पेक्टर धनंजय सिंह की यह आत्मीयता देख कर मोनू ने कृतज्ञ भाव से उनका आभार व्यक्त किया। इंसपेक्टर धनंजय सिंह ने मोनू से बालक सोहन का ध्यान रखने तथा भविष्य में उसके साथ प्रेम पूर्वक पेश आने को कहा। यह मामला तो बानगी भर है तालकटोरा इंसपेक्टर धनंजय सिंह अपने सरल स्वभाव के लिए क्षेत्र में काफी लोकप्रिय है वह समय समय पर परेशान व ज़रूरतमंद लोगों की मदद करते रहते है।