ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
सोसायटी फॉर एनिमल वेलफेयर सभी से बेज़ुबान जीवो की प्राण रक्षा की अपील की 
May 29, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
लखनऊ सवांददाता दैनिक अयोध्या टाइम्स पुष्पेंद्र सिंह 
सोसाइटी फॉर एनिमल वेलफेयरअध्यक्ष सबा बनो मानद जिला पशु कल्याण अधिकारी जीव जंतु कल्याण बोर्ड,भारतीय किसान लोक शक्ति की महिला प्रकोष्ठ उपाध्यक्ष ने अपने हम सभी से बेज़ुबान जीवो की प्राण रक्षा की अपील की है साथ ही उन्होंने बताया कि सोसायटी फॉर एनिमल वेलफेयर लगातार बेज़ुबान जीवो की रक्षा प्राथमिक चिकित्सा पशु क्रूरता खाने पीने की व्यवस्था और भय मुक्त वातावरण और  बेहतर जीवन शैली के लिए प्रयासरत रहती है घोड़ा गाड़ी चेकिंग अभियान द्वारा घोड़ा गाड़ी पर अधिक बोझ ना डालना धूप में ना निकालना चारा पानी की व्यवस्था बीमारियां चोटिल घोड़े से कार्य ना लेना समय-समय पर सोसायटी द्वारा घोड़ों का टीकाकरण भी निशुल्क करवाया जाता है स्ट्रीट डॉग का भी रेबीजटीकाकरण भी करवाया गया है कीड़े की दवा देना ताकि डॉग तमाम बीमारियों से बचा रहे  वन विभाग की सूचना पर या अन्य पब्लिक द्वारा फोन सूचना पर अगर किसी के यहां सर्प निकलता है सोसाइटी  द्वारा उसको पकड़ वाकर जंगल में छुड़वाना, घायल बंदर की सूचना मिलने पर वन विभाग से संपर्क कर उसको चिकित्सा सुविधा देना बीमार गाय नंदी घोड़ा खच्चर जिनके मालिक उनको इस्तेमाल के बाद छोड़ देते हैं ऐसे लावारिस जीवो की प्राण रक्षा और प्राथमिक चिकित्सा सोसायटी द्वारा प्रशिक्षित पैरावेट द्वारा करवाई जाती है. सोसायटी फॉर एनिमल वेलफेयर के सदस्य फातिमा ललित मिश्रा गोविंद मिश्रा सौरभ विभु शोएब  अहमद एडवोकेट धीरेंद्र राजेश सर  आशीष गुप्ता अनुराग बाजपेई काशिफ सलमान रिजवान हैदर मुकेश मौर्य जो कि किसी भी खतरनाक से खतरनाक सर्प की जीवन रक्षा हेतु तत्पर रहते हैं और सोसायटी के कुछ सदस्य अपनी टीम बनाकर मोहल्लों से खाना कलेक्ट करके बेजुबान ओं का जवानों का पेट भर रहे है सोसायटी फॉर एनिमल वेलफेयर को कोई सरकारी मदद या अनुदान नहीं मिलता है सोसाइटी फॉर एनिमल वेलफेयर के  सभी सदस्य अपनी बचत जमा पूंजी से बेजुबान ओं के लिए सेवा में तत्पर रहते हैं सोसाइटी का मुख्य उद्देश्य बेजुबान की प्राण रक्षा अतः आप सब से निवेदन है  कि किसी के यहां सर्प निकलता है तो उसे मारे ना सोसाइटी को सूचना दें ताकि एक जीव की प्राण रक्षा हो सके क्योंकि जीव हमारे जीवन का अभिन्न अंग है कुदरत की बनाई हुई सभी जीवात्मा में एक दूसरे के लिए कुछ ना कुछ भलाई या घनिष्ठ संबंध है जिससे हमारी पृथ्वी का संतुलन बराबर रहता है अतः आप सब से अनुरोध है किस जीव रक्षा में आगे आए और मेरा सहयोग करें।