ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
पंचायत सदस्यो समेत दर्जनो परिवार भाजपा छोड़ तृणमूल कांग्रेस मे हुये शामिल 
June 17, 2020 • Brajesh Kumar Mourya

पुरुलिया: दुरकू ग्राम पंचायत के दो सदस्य भाजपा से तृणमूल में शामिल होते ही पुरुलिया के 1 ब्लॉक के दुरकु ग्राम पंचायत भाजपा से निकल कर तृणमूल के नियंत्रण में आ गई। भाजपा के दो पंचायत सदस्य जितेन बाउरी, सुजाता महतो और एक पंचायत समिति सदस्य कल्याणी सिंह सरदार पुरुलिया शहर में रांची रोड पर तृणमूल में शामिल हुए। तृणमूल जिला अध्यक्ष शांतिराम महतो ने उन्हें पार्टी का झंडा सौंपा। हालांकि, भाजपा के उन तीन सदस्यों के अलावा, कई नेता और कार्यकर्ता भाजपा से तृणमूल मे आ गए। मंत्री शांतीराम महतो ने कहा, पुरुलिया के दुरकु ग्राम पंचायत के दो और पंचायत समिति के एक सदस्य आज भाजपा से तृणमूल में शामिल हुए। परिणामस्वरूप, ग्राम पंचायत हमारे नियंत्रण में आ गया है। पार्टी सूत्रों के अनुसार, ग्राम पंचायत में सीटों की कुल संख्या 10 है। पंचायत चुनाव में बीजेपी को 6, सीपीएम को 1 और तृणमूल को 3 सीटें मिली थीं। भाजपा के दो सदस्यों के शामिल होने के परिणामस्वरूप, तृणमूल के सदस्य 5 हो गए हैं। परिणामस्वरूप, भाजपा उक्त ग्राम पंचायत से हाथ धो बैठी। भाजपा छोड़ तृणमूल मे शामिल हुये सदस्यों ने कहा कि कोरोना काल जैसी विकत परिस्थिति मे भी हमारे भाजपा सांसद नहीं दिखे। हम लोगों के लिए कुछ नहीं किया, जबकि तृणमूल कांग्रेस हर किसी की सहायता कर रहे है। इसलिए आज हमने भाजपा छोड़ दी और तृणमूल मे शामिल हो गए। तृणमूल उपाध्यक्ष रतिंद्रनाथ महतो, पुरुलिया नंबर 1 पंचायत समिति के उपाध्यक्ष शिवराम कालिंदी और ब्लॉक के अन्य नेता मौजूद थे। दूसरी ओर, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आदर्शों से प्रेरित होकर पुरुलिया में काशीपुर विधानसभा क्षेत्र के रूरा-बिसपुरिया क्षेत्र के रामपुर गाँव के 75 परिवार भाजपा के स्थानीय विधायक स्वपन बेल्थरिया का हाथ पकड़कर भाजपा पार्टी से तृणमूल मे शामिल हुये।