ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
ऑनलाइन स्कूल
May 20, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • कविता
कोरोना महामारी में सबने
नई नई नीति है अपनाई
ऑनलाइन स्कूल चले अब
न खराब हो बच्चों की पढ़ाई।
 
 
दिन भर पढ़ते दिन भर लिखते
नोट्स सबके तैयार हैं
परीक्षा जिसकी बाकी रह गयी
अबकी अच्छे नंबर से सब पार है।
 
कोई पढ़ रहा इतिहास और हिंदी
कोई पढ़ता है विज्ञान और भूगोल
गणित के सवाल सब करते हल
कोई समझे धरती है गोल।
 
देख देख फ़ोन की स्क्रीन पर
लेते है विषय का ज्ञान
ज़रा सा देर हो जाये तो
पीडीएफ की करते है मांग।
 
 
फायदा हुआ वैज्ञानिक नीति का
ऑनलाइन स्कूल का लाभ मिला
इस महामारी में भी सब विद्यार्थियों को
अपने स्कूल का साथ मिला।
 
दोस्त भी मिलते है रोज़ ऑनलाइन
अब कमी भी महसूस न होती है
शिक्षा भी है खेल भी मिलता
किसी को तकलीफ़ भी न होती है।