ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
नहर में नहीं आ रहा पानी कैसे हो किसानी पानी
May 27, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
दैनिक अयोध्या टाइम्स/महफूज अहमद
 
 शुकुल बाजार अमेठी। नहर में नहीं आ रहा पानी किसानों को हो रही परेशानी कैसे हो धान की नर्सरी किसान चिंतित। बताते चलें मई महीना बीतने वाला है धान की नर्सरी का वक्त हो चुका है वहीं अभी तक गेंरावा रजवाहा में पानी नहीं आया ऐसे में क्षेत्र के किसान चिंतित हैं क्योंकि जब समय पर धान की  नर्सरी होगी तभी धान की समय से रोपाई होगी और सही उपज होगी लेकिन नहर में पानी ना आने की वजह से किसानों के धान की नर्सरी नहीं हो पा रही है। बताते चलें इस बार क्षेत्र के किसान वैसे भी प्रकृति की मार से परेशान हैं जहां तिलहन दलहन ना के बराबर पैदा हुआ वहीं गेहूं की उपज भी 60 परसेंट से ज्यादा नहीं हुई ऐसे में क्षेत्र के किसान पहले से ही काफी परेशान है किसानों को अब बची खुची उम्मीद धान की खेती से है लेकिन नहर में पानी ना आने की वजह से किसानों को धान की फसल की भी चिंता सताने लगी है । बताते चलें किसी भी प्रकार की खेती करने के लिए पानी अनिवार्य होता है क्षेत्र ऊंचाहार होने की वजह से पानी की अत्यंत आवश्यकता रहती है ऐसे में शुकुल बाजार विकासखंड के हजारों किसानों को गेंरावा रजवाहा से उम्मीद रहती है बिना पानी के किसानी कैसे संभव है जागरूक किसानों का कहना है कि पानी के बिना खेती संभव नहीं है वहीं क्षेत्र वासियों ने बताया कि इस नहर के हालात अत्यंत खराब थे  लेकिन राज्यमंत्री सुरेश पासी  के द्वारा संज्ञान में लिए जाने के बाद नहर की खुदाई हुई थी और नहर में पानी आया था लेकिन धान की सीजन में अभी तक पानी नहीं आया  ऐसे में क्षेत्रीय किसानों ने शासन-प्रशासन उच्च अधिकारियों समेत जनप्रतिनिधियों से नहर में पानी छोड़े जाने की मांग की है।