ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
लाकडाउ की उड रही हैं धज्जियां,पानी की कोई व्यवस्था नहीं
May 27, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
मौदहा हमीरपुर।इस समय देश वैश्विक महामारी कोविड 19 कोरोना से इस कदर प्रभावित है कि हमारा देश विश्व के कोरोना प्रभावित दस सर्वश्रेष्ठ देशों की सूची में आ गया है।हालांकि इस महामारी की अभी तक कोई कारगर दवा या टीका नही बना है यह भी सभी लोग जानते हैं।इस महामारी से बचने का सबसे बडा हथियार सामाजिक दूरी है।क्योकिं कहीं पर भी भीड एकत्र न हो इसके लिए देश में चौथे चरण का लाकडाउन चल रहा है सभी व्यापारियों को सशर्त अपने प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति दी गई है और जो व्यापारी नियमो का उल्लंघन करता है उसके विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया जा रहा है।लेकिन कस्बे के इलाहाबाद बैंक में कोरोना या लाकडाउन का कोई प्रभाव देखने को नहीं मिलता है।कस्बे के इलाहाबाद बैंक मे भीड इस कदर हावी है कि ड्यूटी पर लगाए गए दो,तीन सुरक्षा कर्मी असहाए नजर आ रहे हैं।हालांकि अपने ग्राहकों को धूप से बचाने के लिए बैंक द्वारा बैंक के बाहर टैंट लगाया गया है लेकिन वह टैंट मात्र बैंक कर्मचारियों और प्रभावी लोगों की गाडियों को छांह देने के काम आरहा है।बैंक अधिकारियों की नजर में ग्राहकों से ज्यादा महत्व गाडियों को दिया जा रहा है।हालांकि सरकार आम नागरिकों को हर सुविधा देने का प्रयास कर रही है।लेकिन समझ यह नही आ रहा है कि सरकारी सुविधाएं मिल किन्हे रही हैं।क्योकि जनता तो धूप में सूख रही है।इतना ही नहीं बैंक में ग्राहकों के पीने के लिए पानी की भी कोई व्यवस्था नहीं है।कहने के लिए तो नगर पालिका परिषद द्वारा लगाया गया फ्रीजर टंकी सहित बैंक के बाहर लगा हुआ है।लेकिन पानी नही देता है।अऔर अभी तक नगर पालिका परिषद द्वारा मरम्मत कार्य भी नहीं कराया गया है।सोचने वाली बात यह है कि जब 45℃ तापमान में भी नगर के बैंको मे पानी नहीं है तो आगे क्या होगा।