ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
कोविड-19 से उत्पन्न चुनौतियों के बावजूद आवश्यक वस्तुओं और ऊर्जा तथा अवसंरचना क्षेत्र से जुड़ी चीजों की ढुलाई के लिए भारतीय रेल के मालवहन गलियारे पूरी क्षमता के साथ कर रहे काम
April 7, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • लेख
भारतीय रेल कोविड-19 के कारण राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन के दौरान अपनी माल परिवहन सेवाओं के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने का प्रयास जारी रखे हुए है।

कोविड के कारण हुए लॉकडाउन के बावजूद, नागरिकों के लिए आवश्यक वस्तुओं तथा ऊर्जा और बुनियादी ढाँचा क्षेत्र के लिए महत्वपूर्ण वस्तुओं की समय पर आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए, भारतीय रेल ने अपने मालवहन गलियारों को पूरी तरह संचालित रखा है। इस तरह वह इन दोनो घरेलू क्षेत्रों के साथ ही उद्योगों की जरूरतों को भी पूरा करने में सफल रही है।

पिछले 3 दिनों के दौरान भारतीय रेल ने 7195 वैगन खाद्यान्न, 64567 वैगन कोयला, 3314 वैगन इस्पात,  और 3838 वैगन पेट्रोलियम उत्पादों की आपूर्ति की है। इस अवधि में कुल 143458 वैगनों में माल ढुलाई हुई।

30 मार्च 2020 को कुल 726 रेक / 37526 वैगनों का लदान किया गया, जिसमें से 466 रेक / 25617 वैगनों के जरिए आवश्यक वस्तुओं  (एक वैगन में 58-60 टन खेप का लदान होता है) 51 रेक / 2252 वैगनों के जरिए खाद्यान्न, 6 रेक / 252 वैगनों के जरिए चीनी, 8 वैगनों के जरिए नमक, 2 रेक / 63 वैगनों के जरिए फलों और सब्जियों, 376 रेक / 21628 वैगनों के जरिए कोयले  और 31 रेक / 1414 के जरिए पेट्रोलियम उत्पादों की ढुलाई कीगई ।ढुलाई की अन्य महत्वपूर्ण वस्तुओं  में, 19 रेक / 840 वैगन इस्पाल और 18 रेक / 802 वैगन उर्वरक शामिल  थे।

31 मार्च 2020 को, कुल 1005 रेक / 51755 वैगनों में सामान लादा गया। जिसमें से 598 रेक / 33265 वैगनों में आवश्यक वस्तुओं का लदान किया गया, जिसमें से , 59 रेक / 2600 वैगनों में खाद्यान्न, 7 रेक / 293 वैगनों में  चीनी, 2 रेक / 84 वैगनों में  नमक, 2 रेक / 84 वैगनों में  फल और सब्जियां, 500 रेक / 28861 वैगनों में  कोयला और 28 रेक / 1292 वैगनों में  पेट्रोलियम उत्पादों का लदान किया गया। लदान वाली अन्य महत्वपूर्ण वस्तुओं में 40 रेक /  1789 वैगन इस्पात और 31 रेक / 1287 वैगन उर्वरक शामिल थे।

01 अप्रैल 2020 को, कुल 1005 रेक / 51755 वैगनों में सामान लादा गया। जिसमें से 328 रेक / 17805 वैगनों में आवश्यक वस्तुएं का लदान किया गयाए जिसमें54 रेक / 2343 वैगनों में खाद्यान्न, 5रेक / 210 वैगनों में  चीनी, 1 रेक / 42 वैगनों में  फल और सब्जियां, 244 रेक / 14078 वैगनों में  कोयला और 24 रेक / 1132 वैगनों में  पेट्रोलियम उत्पादों का लदान किया गया। लदान वाली अन्य महत्वपूर्ण वस्तुओं में 16 रेक /  761 वैगन इस्पात और 17 रेक / 761 वैगन उर्वरक शामिल थे।

माल के लदान और उन्हें उतारे जाने के दौरान कई टर्मिनलों पर रेलवे को जिन मुश्किलों का सामना करना पडता था उन सबका प्रभावी तरीके से समाधान किया जा रहा है।

   परिचालन संबंधी  किसी भी तरह की समस्या से निबटने के लिए भारतीय रेल, गृह  मंत्रालय के साथ मिलकर राज्य सरकारों के साथ संपर्क बनाए हुए है।