ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक की उपस्थिति में विकास भवन सभागार में जनपद के उलेमाओं के साथ बैठक 
May 21, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
दैनिक अयोध्या टाइम्स,रामपुर- लॉक डाउन के दौरान ईद के त्यौहार को मनाए जाने के संबंध में विस्तार पूर्वक चर्चा की गई। जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोनावायरस के संक्रमण से संबंधित मामले जनपद में लगातार बढ़ते जा रहे हैं परंतु इन मामलों से घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि इनमें अहमदाबाद एवं महाराष्ट्र से आने वाले लोग सामान्यतः पॉजिटिव पाए जा रहे हैं जिन पर प्रशासनिक स्तर से निगरानी समितियों के माध्यम से कड़ी निगरानी भी रखी जा रही है। संवेदनशील प्रदेशों एवं जनपदों से आने वाले लोगों को 21 दिन तक अनिवार्य रूप से होम क्वॉरेंटाइन रहने के निर्देश दिए गए हैं जिसका सख्ती से पालन भी सुनिश्चित कराया जा रहा है।
ऐसी स्थिति में ईद के त्यौहार के दौरान फिजिकल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखना बेहद जरूरी है अन्यथा संक्रमण बढ़ सकता है उन्होंने कहा कि जनपद के प्रत्येक व्यक्ति ने लॉक डाउन के दौरान अत्यंत संयम के साथ फिजिकल डिस्टेंसिंग व लॉक डाउन के अंतर्गत जारी किए गए सभी निर्देशों का पालन किया है तथा ईद के दौरान भी इसका पालन होना चाहिए। जिसके लिए उन्होंने उलेमाओं से विस्तारपूर्वक चर्चा के उपरांत कहा की उलेमा अपनी सुविधा एवं वर्तमान हालातों के दौरान उचित निर्णय लें। उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा स्पष्ट  किया जा चुका है कि जब तक  इस वायरस  का इलाज  नहीं मिल जाता तब तक  बेहद सावधानी बरतने की आवश्यकता है इसके अलावा उन्होंने कहा कि शासन द्वारा किसी भी प्रकार की धार्मिक  भीड़  के लिए स्पष्ट रूप से मना किया गया है, जिसके बाद यह निर्धारित किया गया कि जिस प्रकार रोजे के दौरान 5 लोग मस्जिदों में नमाज पढ़ते थे उसी प्रकार ईद के त्योहार में भी 5 लोग ही मस्जिदों में नमाज पढ़ेंगे इसके अलावा लोग अपने घरों में नमाज अदा करेंगे। ईदगाह में नमाज की अदायगी नहीं होगी।उन्होंने कहा कि लाक डाउन के दौरान गरीब परिवारों की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए कार्य योजना तैयार कराई जा रही है ताकि किसी के सामने खाद्यान्न का संकट न उत्पन्न होने पाए। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जनपद में धारा 144 प्रभावी है इसके तहत निर्धारित प्रावधानों का पालन करना भी प्रत्येक व्यक्ति की जिम्मेदारी है।
इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी शिवेंद्र कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन जगदंबा प्रसाद गुप्ता, अपर पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह, नगर मजिस्ट्रेट सर्वेश कुमार गुप्ता सहित समस्त उपजिलाधिकारी एवं जनपद के प्रमुख उलेमागण मौजूद रहे।