ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
गोवर्धन की जनता विगत सप्ताह से पेयजल के लिए कर रही है त्राहि-त्राहि
May 31, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
गोवर्धन चेयरमैन एवं अधिशासी अधिकारी नगर निवासियों का शोषण करने में मस्त
डॉ केशव आचार्य गोस्वामी मथुरा ब्यूरो अयोध्या टाइम्स
 मथुरा (उत्तर प्रदेश) मथुरा जनपद के विश्व प्रसिद्ध पवित्र तीर्थ स्थल गोवर्धन धाम में वर्तमान समय में आम जनता पेयजल के लिए  त्राहि-त्राहि कर रही है नगर पंचायत गोवर्धन चेयरमैन एवं अधिशासी अधिकारी राजेश चौधरी द्वारा पेयजल की व्यवस्था है कोई कठोर कदम नहीं उठाया गया है सप्लाई द्वारा पेयजल की जो पूर्ति की जाती है वह भी गंदा एवं बदबूदार पेयजल की सप्लाई की जा रही है जिससे क्षेत्र में संक्रामक रोग फैलने की आशंका बनी हुई है विश्व में अपना अनूठा स्थान रखने वाले गोवर्धन धाम में भजन लाखों की संख्या में श्रद्धालु भक्त देश विदेश से आते हैं भीषण गर्मी में शुद्ध पेयजल की आवश्यकता प्रत्येक आमजन के लिए आवश्यक है लेकिन श्री गोवर्धन पीठ के अंतर्गत स्थित हेडपंप को जोकि विगत 1 वर्ष से क्षतिग्रस्त हो गया है नागरिकों द्वारा जिसकी सूचना नगर पंचायत चेयरमैन एवं अधिशासी अधिकारी राजेश चौधरी को दी आज तक उस हेडपंप को सही नहीं कराया गया है विगत दिनों मौसम की ट्राई ट्राई के कारण विद्युत व्यवस्था चरमरा गई इससे क्षेत्र में पानी की गंभीर समस्या पैदा हो गई नगर वासियों को जंगल में एवं खेतों पर आसपास के हेड पंप कुआं से पेयजल के लिए भागदौड़ करनी पड़ी  गोवर्धन के क्षेत्र चकलेश्वर तिवारी मोहल्ला तबेला नदी वाली गली 10 विषय हरदेव गली उप्पलवास हरदेव मंदिर क्षेत्र मनसा देवी सैनी मोहल्ला ठाकुरान आदि क्षेत्रों में आम जनता पेयजल के लिए दर-दर भटकती रही लेकिन नगर पंचायत प्रशासन गोवर्धन मूकदर्शक बना हुआ है आए दिन पेयजल की गंभीर समस्या पैदा है अगर पेयजल सप्लाई किया जाता है तो वह भी बदबू एवं दुर्गंध युक्त है क्षेत्रीय व्यक्तियों द्वारा नाम ना छापने पर बताया है कि नगर पंचायत गोवर्धन का यह दुर्भाग्य है कि जो भी चेयरमैन इस गद्दी पर आता है जनता का शोषण करता है 70 वर्ष के बाद में अभी नगर पंचायत गोवर्धन की जनता मूलभूत समस्याओं के लिए दर-दर भटक रही है नगर पंचायत चेयरमैन एवं अधिशासी अधिकारी जनता का शोषण करने के अलावा नगर पंचायत को भ्रष्टाचार ग्रस्त कर दिया है और आम जन समस्या निवारण हेतु दर दर की ठोकर खा रहे हैं