ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज दशहरा व दिवाली विशेष
गोरखपुर विश्‍वविद्यालय में प्रवेश की आवेदन तिथि बढ़ाने के लिए कुलपति से मिले छात्र , सौंपा ज्ञापन 
July 1, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
गोरखपुर । दीनदयाल उपाध्‍याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के प्रवेश परीक्षा के ऑनलाइन आवेदन फॉर्म की अंतिम तिथि 30 जून को समाप्त हो गई है। आवेदन की तिथि बढ़ाने की मांग को लेकर छात्रनेता अनिल दूबे के नेतृत्व में छात्रों ने कुलपति प्रो.वीके सिंह को ज्ञापन सौंपा। छात्रों ने छात्रहित में आवेदन की तिथि बढ़ाए जाने का अनुरोध किया है।
कोरोना संक्रमण के कारण अधिकांश छात्र नहीं कर पाए हैं आवेदन
छात्रों ने कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण अधिकांश छात्र अभी तक आवेदन पत्र नहीं भर पाए हैं। ऐसे में उनके हित में तिथि बढ़ाया जाना आवश्यक है। कुलपति ने छात्रों की मांगों पर शीघ्र विचार करने का आश्वासन दिया। ज्ञापन सौंपने वालों में छात्र नेता विशाल सिंह, अमित सिंह, अंकित यादव आदि मौजूद रहे। विद्यार्थी परिषद ने भी सौंपा ज्ञापन
इसी क्रम में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के महानगर संगठन मंत्री आकाश गौड़ के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने कुलसचिव को तीन सूत्रीय ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया कि ग्रामीण क्षेत्र के अधिकांश विद्यार्थी अभी ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पाए हैं। ऐसे में आवेदन की तिथि को पंद्रह दिन और बढ़ाया जाए। परिषद के नेताओं ने कहा कि छात्रों की परेशानियों को देखते हुए फैसला लिया जाए। कुलसचिव डॉ. ओम प्रकाश ने मांगों पर शीघ्र विचार करने का आश्वासन दिया।
मानदेय को लेकर वित्तविहीन  शिक्षक सभा ने डीएम को सौंपा ज्ञापन
प्रदेश के माध्यमिक वित्तविहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को मानदेय उपलब्ध कराने की मांग को लेकर माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा ने  मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा। ज्ञापन के जरिये मानदेय शीघ्र उपलब्ध कराने की मांग की।
आर्थिक सहायता न मिलने से स्थिति खराब
ज्ञापन में कहा गया है कि संगठन द्वारा कई बार इस समस्या को शासन के संज्ञान में लाया गया, लेकिन अभी तक कोई आर्थिक सहायता प्राप्त नहीं हुई है। जिससे शिक्षक व कर्मचारी भुखमरी  के कगार पर पहुंच गए हैं। ऐसे में हमारी मांगों पर शीघ्र विचार किया जाए। प्रतिनिधिमंडल में हर्षवर्धन सिंह, राणा रत्नेश्वर सिंह, हरिनंद सिंह, कन्हैया लाल जायसवाल तथा विनय कुमार पांडेय आदि शामिल रहे।