ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
दीप जलाने के दौरान 30 से 35 लोगो को नमाज पढ़ने से रोका नमाजियों ने की  मारपीट
April 7, 2020 • Brajesh Kumar Mourya

सण्डीला/हरदोई:- (अयोध्या टाइम्स)केंद्र सरकार व राज्य सरकार कई प्रयास लगातार कोरोना वाइरस जैसी घातक बीमारी के लिए कर रही है। व केंद्र सरकार अपनी देश की जनता को कोरोना जैसी महामारी से बचाने के लिए 21 दिन का लॉक डाउन किये हुए है। और केंद्र सरकार बार बार अपील भी कर रही है। कि आप सभी लोग घर मे रहे। आवश्यक काम से बाहर निकले। कई प्रयास व नियम जनता के लिए बना चुकी है। और बना भी रही है। कि इस महामारी से जो लड़ रहे है उनको बचाना व और जो लोग नही है। उनको इस महामारी से दूर रखना सरकार अपनी जिम्मेदारी बेखूबी निभा रही है। मगर दरकिनार यह मुश्लिम लोग जो कि बार बार कहने के बाद भी यह लोग अपने घरों में नमाज को नही पढ़ रहे है। और जो पढ़ रहे है। वह 35 से 40 लोग एक साथ पढ़ रहे है।   उधर केंद्र सरकार कोरोना वायरस से बचने के लिए दिनाक 5 तारीख को दीये जलाने की अपील की लोग उसको पूरा करते हुए नजर आए लेकिन उन आदेशो की धज्जिया कुछ लोग उड़ाते हुए नजर आए। उधर दीपोत्सव की तैयारी इधर एक साथ 40 लोग नमाज पढ़ने में लगे  हुए मिले। जब उन लोगो को रोका गया। तो प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को अपशब्द भी कहे। एक ऐसा ही मामला प्रकाश में आया है।
          बताते चले प्रधानमंत्री की अपील पर रविवार रात नौ बजे दीपोत्सव के दौरान छत पर एकत्रित होकर लाउडस्पीकर पर अजान पढ़ रहे लोगो का विरोध करने पर मारपीट का मामला सामने आया है।
     तहसील सण्डीला के थाना क्षेत्र अतरौली के ग्राम महगवां निवासी विनय कुमार ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि प्रधानमंत्री की अपील पर रविवार की रात वह दीप जलाकर बैठ गया। उसी दौरान उसी पड़ोस के घर से जोर जोर से साउंड पर अजान पढ़ने की आवाज आने लगी। करीब 15 मिनट गुजर जाने के बाद भी जब अजान बंद नहीं हुई तो उसने अपनी छत पर चढ़कर देखा तो पड़ोसी रिजवान गफ्फार की छत पर 30 से 35 लोग बैठ कर अजान पढ़ रहे थे जिसमें कुछ लोग परिचित भी नजर आ रहे थे उसका आरोप है कि उसने उनके दरवाजे के सामने पहुंचकर आवाज दी और कोरोना  के संबंध में एहतियात बरतने को कहा तो वहां पर मौजूद लोग इनकी बातों से भड़क गए और मोदी और योगी को अपशब्द कहने लगे मेरे समझने पर उन लोगों ने गाली-गलौच कर मारपीट शुरू कर दी उसी समय अन्य लोगों ने उसे बचाया हमले के दौरान विनय कुमार को चोट भी आई पुलिस ने तहरीर के आधार पर 25 नामजद और और 10- 15 अज्ञात लोगों के विरुद्ध एफ आई आर दर्ज कर ली है थानाध्यक्ष संतोष तिवारी ने बताया की जांच कर कार्यवाही की जा रही है मुकदमा पंजीकृत हो गया है।