ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज दशहरा व दिवाली विशेष
भारत शेष विश्व के साथ जैव विविधता के संरक्षण में अपनी सर्वश्रेष्‍ठ कार्य प्रणाली और अनुभवों को साझा करेगा: केन्‍द्रीय पर्यावरण मंत्री
May 23, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • लेख
अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस 2020 के वर्चुअल उत्सव में, केन्‍द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज जैव विविधता के संरक्षण के लिए पांच प्रमुख पहलों की शुरूआत की।

वर्ष 2020 जो ‘‘जैव विविधता के लिए उत्‍तम वर्ष” भी है, क्‍योंकि 2010 में अपनाए गए 20 वैश्विक ऐची लक्ष्यों के साथ जैव विविधता के लिए रणनीतिक योजना 2020 में समाप्त हो रही है और सभी देश मिलकर 2020 के बाद की वैश्विक जैव विविधता रूपरेखा तैयार करने की प्रक्रिया में हैं। केन्‍द्रीय मंत्री ने कहा कि भारत, एक बहुत बड़ा जैव विविधता वाला देश है, भारत उन देशों का स्वागत करता है जो अपनी जैव विविधता परिदृश्यों को बेहतर बनाने में रुचि रखते हैं, और हम उनके साथ अपने अनुभवों और सर्वश्रेष्‍ठ कार्य प्रणाली को साझा करने के लिए तैयार हैं। पर्यावरण मंत्री ने अपनी खपत को सीमित करने और एक स्थायी जीवन शैली को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर जोर दिया।

इस वर्ष की विषय वस्‍तु पर जोर देते हुए श्री जावड़ेकर ने कहा कि "हमारे समाधान प्रकृति में हैं" और इसलिए, अपनी प्रकृति की रक्षा करना बेहद महत्‍वपूर्ण है, विशेष रूप से कोविड-19 के वर्तमान संदर्भ में क्योंकि यह हमें जानवरों से मनुष्‍यों में होने वाली बीमारियों सहित विभिन्न तबाहियों से बचाती है।