ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
भारत में चीन की 59 ऐप बैन
July 9, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • लेख
भारत में चीन की 59 ऐप बैन कर देने से चीन बौखला गया है। चीन के विदेश मंत्री ने भारत के फैसले को परेशान करने वाला बताया है। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने चाइनीज ऐप्स की एक लिस्ट तैयार कर केंद्र सरकार से अपील की थी कि इनको बैन किया जाए। क्योंकि इनके जरिए चीन भारतीय डेटा हैक कर सकता है और इसीलिए भारत सरकार ने तुरंत इन 59 ऐप को बैन कर दिया है और आगे और भी चीनी ऐप पर प्रतिबंध लग सकता है।
        टेलीग्राफ एक्ट के तहत संचार मंत्रालय को इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर को किसी भी वेबसाइट या ऐप का डेटा रोकने को कहने का हक है। अगले एक-दो दिन में यह डेटा रोक दिया जाएगा। गूगल प्ले स्टोर, ऐप स्टोर से ये ऐप हटा दिए गए हैं। इनके अपडेट भी नहीं मिलेंगे। डेटा रोकने पर यूजर्स को फीड मिलनी बंद हो जाएगी और केवल पुरानी वीडियो ही मिलेंगे।इन एप्स के जरिए हिंदुस्तानियों का डेटा दूसरे देशों में जा रहा था। चीन ने इसी तरह फेसबुक और गूगल को बैन कर दिया था। दुबई में व्हाट्सएप पर चैट तो कर सकते हैं पर व्हाट्सएप कॉल नहीं कर सकते।
        एप्पल की रिपोर्ट ने भी दावा किया है कि यहां पर डेटा सुरक्षित नहीं है। इन 59 ऐप में टिक टॉक में 100 मिलियन यूजर्स हैं, वहीं लाइक और हैलो जैसे ऐप का भी युवाओं में बहुत क्रेज है। यह भारत से करोड़ों रुपए कमा रहे थे।
        भारत सरकार द्वारा लगाए गए इस प्रतिबंध का असर एक और चीन की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा, दूसरी तरफ राष्ट्रीय सुरक्षा को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया गया है। इस एंटी चाइना कैंपियन का सबसे ज्यादा असर बीगो लाइव, पबजी, टिक टॉक,लाइकी और शेयर इट को हुआ है। सेंसर टावर की एक रिपोर्ट के अनुसार जून में इन एप्स का बहुत नुकसान हुआ है जून में इनके नंबर ऑफ़ डाउनलोड्स बहुत कम रह गए आशा है इन चाइनीज ऐप्स के अल्टरनेटिव शीघ्र उपलब्ध हो जाएंगे
 
रंजना मिश्रा ©️
कानपुर, उत्तर प्रदेश