ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
बंगाल की खाड़ी में बन रहा सुपर चक्रवात अम्‍फन पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा तटों को प्रभावित को प्रभावित करेगा
May 21, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • लेख
भारत मौसम विज्ञान विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग द्वारा जारी नवीनतम जानकारी (1900 बजे आईएसटी पर) के अनुसार:
  • चक्रवात अम्‍फन आज, 18 मई, 2020 को दोपहर के आसपास एक सुपर चक्रवात में बदल गया।
  • यह 220 से 230 किमी प्रति घंटे की हवा की गति के साथ बहुत ही तीव्र चक्रवात है।
  • उम्‍मीद की जा रही है कि यह 20 मई 2020 की दोपहर/ शाम के दौरान सुंदरबन के समीप दीघा (पश्चिम बंगाल) और हटिया द्वीप समूहों (बांग्लादेश) के बीच पश्चिम बंगाल- बांग्लादेश के तटों को पार करेगा।
  • यह 165 से 175 किमी प्रति घंटे की रफ्तार और 195 किमी प्रति घंटे की तूफानी हवा के साथ बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में भूमि से टकराएगा।
  • इसके कारण 19 और 20 मई को पश्चिम बंगाल में गंगा के तटवर्ती क्षेत्रों में भारी से अत्‍यधिक भारी वर्षा और उत्तर तटीय ओडिशा में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।
  • ज्वार से लगभग 4-6 मीटर ऊपर तूफान के बढ़ने से दक्षिण एवं उत्तर 24 परगना के निचले इलाकों में बाढ़ आने की आशंका है, जबकि पश्चिम बंगाल के पूर्वी मेदिनीपुर जिले के निचले इलाकों में लगभग 3-4 मीटर ऊपर तूफान के बढ़ने से भूस्खलन होने की भी आशंका है।
  • इस चक्रवात की क्षमता बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचाने की है। इससे बड़े पैमाने पर नुकसान हो सकता है।

 

  1. पश्चिम बंगाल (पूर्व मेदिनीपुरदक्षिण एवं उत्तर 24 परगना, हावड़ा, हुगली, कोलकाता जिलों) में नुकसान की आशंका और दी गई सलाह
  • सभी प्रकार के कच्चे मकानों को व्यापक नुकसान और कुछ पुराने जर्जर पक्‍का मकानों को भी नुकसान की आशंका। उड़ने वाली वस्तुओं से संभावित खतरा।
  • संचार और बिजली के खंभों के उखड़ने की आशंका। रेल/ सड़क लिंक में व्‍यवधान संभव
  • खड़े फसलोंबागानों, बागों को व्यापक नुकसान की आशंका। ताड़ व नारियल के पेड़ों के टूटने और बड़े-बड़े झाड़-झंखाड़ों के उखड़ने की आशंका। लंगड़ से दूर हो सकती हैं बड़ी नौकाएं।

मछुआरों के लिए चेतावनी एवं सुझाव:

  • 18 से 20 मई 2020 के दौरान मछली पकड़ने संबंधी गतिविधियों पर पूरी तरह रोक।
  • रेल और सड़क यातायात को अन्‍य मार्गों की ओर मोड़ने अथवा निलंबित करने का सुझाव।
  • प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को घरों में रहने की सलाह। निचले इलाकों से लोगों को खाली कराने का सुझाव।
  • मोटर बोट अथवा छोटी नौकाओं की आवाजाही न करने की सलाह।
  1. ओडिशा (जगतसिंहपुरकेंद्रपाड़ाभद्रकबालासोरजाजपुर और मयूरबंज) में नुकसान की आशंका
  • फूस के मकानों/ कच्चे मकानों को व्यापक क्षति होने की आशंका। वस्तुओं के उड़ने से खतरे की आशंका। बिजली एवं संचार के खंभों को झुकने/ उखाड़ने की आशंका।
  • कुच्ची और पक्की सड़कों को भारी नुकसान होने की आशंका। रेलवे, बिजली की लाइनें और सिग्नल प्रणाली को मामूली नुकसान संभव।
  • खड़ी फसलों, बागों, बगीचों को नुकसान, हरे नारियल के गिरने और ताड़ के पेड़ों को व्यापक नुकसान की आशंका। आम जैसे झमटदार पेड़ों के उखड़ने की आशंका।
  • छोटे नाव, कंट्री क्राफ्ट्स लंगड़ से अलग हो सकते हैं।

     मछुआरों के लिए चेतावनी एवं सुझाव:

  •  18 से 20 मई 2020 के दौरान मछली पकड़ने संबंधी गतिविधयों पर पूरी तरह रोक।
  •  रेल और सड़क यातायात का मोड़ने या निलंबित करने का सुझाव।
  •  प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को घरों के अंदर रहने की सलाह।
  •   मोटर नौकाओं और छोटे जहाजों की आवाजाही न करने की सलाह।

    सुपर चक्रवातीय तूफान अम्‍फन का अवलोकन और पूर्वानुमान ट्रैक (ए) अनिश्चितता के शंकु और (बी) क्‍वाड्रेंट के हिसाब से पवन का वितरण

    (सी18 मई को 1230 बजे आईएसटी पर इनसैट 3डी उपग्रह से प्राप्‍त चित्र और (डीआईएनसीओआईएस से तूफान में तेजी की जानकारी