ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
अयोध्या कांग्रेसजनों ने ने उत्तर प्रदेश सरकार से प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को तत्काल रिहा करने की मांग की
May 28, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
अयोध्या, कोविड-19 महामारी के चलते लॉकडाउन के दिशा निर्देशों का पूर्ण रूप से पालन करते हुए कांग्रेसी नेताओं ने पूर्व महानगर अध्यक्ष श्री सुनील पाठक के आवास पर भारत के प्रथम प्रधानमंत्री,भारत रत्न स्वर्गीय श्री पंडित जवाहरलाल नेहरू जी की 56वीं पुण्यतिथि पर उनके चित्र पर पुष्पांजलि करके उनके व्यक्तित्व और कृतित्व को याद करते हुए उन्हें आधुनिक भारत का निर्माता बताया पुष्पांजलि करने वालों में प्रमुख रूप से राजेंद्र प्रताप सिंह,सुनील पाठक,उग्रसेन मिश्रा,मोहम्मद शरीफ,वेद सिंह कमल,मंशा राम यादव आदि थे श्रद्धांजलि अर्पित करने के पश्चात् कांग्रेसी नेताओं ने उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा तानाशाही रवैया अख्तियार करते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विधायक अजय कुमार लल्लू जी को फर्जी मुकदमे लगा कर जेल भेजने एवं कांग्रेस नेताओं पर फर्जी मुकदमे कायम करने के विरोध में स्वर्गीय पंडित जवाहरलाल नेहरू के चित्र के समक्ष माथे पर काली पट्टी बांधकर एक दिवसीय उपवास कर विरोध जताया एवं प्रदेश अध्यक्ष को रिहा करने की मांग की। इस दौरान कांग्रेसजनों "गरीबों मजदूरों की आवाज अजय कुमार लल्लू को रिहा करो" का प्लेकार्ड लिए रहे। प्रवक्ता मोहम्मद शरीफ ने बताया कि उपवास उपरांत महामहिम राज्यपाल महोदय को संबोधित ज्ञापन जिसमे वर्तमान में कोरोना महामारी से पूरा देश प्रभावित है इसके चलते लगाए गए लॉकडाउन से लाखों प्रवासी,मजदूर,किसान,असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूर,MSMEs, लघु उद्योग, मछुआरे और देहाती मजदूर अत्यंत दुःख में हैं। वे विगत 2 माह से खाने-पीने,नौकरी तथा अन्य आवश्यक वस्तुओं के अभाव में संघर्ष कर रहे हैं तथा लाखों प्रवासी श्रमिक/कामगारों कि अपने घर और गांव सुरक्षित लौटने की मार्मिक तस्वीरें,वीडियो देश की आत्मा को आहत कर रही है उन्हें सैकड़ों किलोमीटर पैदल चलकर(हाईवे पर),ट्रकों में पैक हो कर जाना पड़ रहा है सरकार द्वारा कोई परिवहन की सुविधा उपलब्ध ना होने के कारण बहुत से प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई है इन प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए कांग्रेस पार्टी 1000 बसें चलाने का निर्णय लिया था,जिसे प्रदेश सरकार की हठधर्मिता के चलते मंजूरी नहीं दी गयी। इसका विरोध करने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया जो दिनांक 21-5- 2020 से लखनऊ जेल में निरुद्ध हैं साथ ही साथ पूरे प्रदेश में हमारे जिला/शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और नेताओं के ऊपर भी फर्जी मुकदमे लादे गये हैं जो उत्तर प्रदेश सरकार की गरीब मजदूर विरोधी तानाशाही पूर्ण रवैया को उजागर करता है महामहिम जी आपसे अनुरोध है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष माननीय श्री अजय कुमार लल्लू जी को तत्काल रिहा किया जाए साथ ही साथ हमारे नेताओं के खिलाफ दर्ज किए गए फर्जी मुकदमे वापस लिए जाये। की मांग की गई ईमेल द्वारा महामहिम राज्यपाल को प्रेषित किया गया। उपवास में एआईसीसी सदस्य राजेंद्र प्रताप सिंह,पूर्व महानगर अध्यक्ष सुनील पाठक,पीसीसी सदस्य मोहम्मद शरीफ,वरिष्ठ कांग्रेसी नेता वेद सिंह कमल शामिल रहे।