ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
 विषपान से तीन बच्चे मूर्छित एक कि मौत
May 25, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • बिहार

पटनासिटी (संवाददाता) ।   फतुहां प्रखंड के मसाढ़ी गांव के एक घर में सगे भाई बहन समेत तीन  बच्चे  के विषपान से मूर्च्छित हो गए ।  जिसमे  इलाज के दौरान एक बच्ची की मौत हो गई और दूसरा अस्पताल में जीवन और मौत से संघर्ष कर रहा है जबकि एक बच्चा स्वस्थ हो गया। बताया जाता है कि अ शनिवार की रात मसाढ़ी निवासी चंदू साव की 12 वर्षीया बेटी और उसके दो छोटे भाई बहनों अचानक मूर्छित हो गए जिसे । घर वालों ने सभी को मसाढ़ी स्थित चैरिटेबल अस्पताल  में भर्ती कराया जहां  चंदू  साव की 12 वर्षीया बेटी रीमा की मौत हो गई वहीं उसके 7 वर्षीय भाई मुन्ना को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई जबकि उसकी एक और 8 वर्षीया बहन रानी एभी भी अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही है। डॉक्टर ने सभी को विषपान करने का मामला बताया , सुबह होते ही यह खबर जंगल में आग की तरह फैल गई। सूचना मिलते ही गौरीचक थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घर वालो ने भूलवश चूहा मारने की दवा खा लेने का मामला बताया है परन्तु एक साथ तीनो बच्चे भूल वश इस घटना को अंजाम देना संदेहास्पद है । बताया जाता है कि मृतका रीमा के पिता चंदू ने तीन शादियां की थी। पहली पत्नी से कोई बच्चे नहीं थे जबकि दूसरी पत्नी से 16 वर्षीया बेटी प्रीति, 12 वर्षीया बेटी रीमा एवं 10 वर्षीया सुलेखा थी जबकि तीसरी पत्नी रंजू से एक 8 वर्षीया बेटी रानी और 7 वर्षीया बेटा मुन्ना है। चंदू किराना का दुकान चलाकर परिवार का भरण पोषण करता है। ग्रामीणों ने सौतेली माँ पर  जहर देने का आरोप लगाया है परन्तु  अस्पताल में  जिंदगी मौत से जूझ रानी  तीसरी पत्नी का है ऐसे में यह आकलन करना भी मुमकिन है ,ऐसे में सम्भव है बच्चों ने दुकान के लिए लाई गई दवा भूलवश खा ली हो। मौके पर पहुंचे गौरीचक थानाध्यक्ष नागमणि ने बताया कि परिजनों द्वारा चूहा  मारने की दवा घर के पास खेल रहे बच्चों द्वरा  खा लेने की बात बताई जारही है , हादसे में एक की मौत हो गई जबकि दूसरी इलाजरत है। अभी तक किसी भी परिजनों द्वारा किसी प्रकार का आवेदन नहीं दिया गया है, लिखित आवेदन मिलने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।