ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज दशहरा व दिवाली विशेष
 सुधीर चौधरी व डी एन ए की समीक्षा
May 24, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • लेख

इस समय के चर्चित व्यक्तित्व जी न्यूज के प्रधान संपादक व वरिष्ठ पत्रकार सुधीर चौधरी जी के डी एन ए कार्यक्रम की समीक्षा करना मेरे लिए गर्व की बात होगी।  सच की आवाज का दूसरा नाम सुधीर चौधरी जो अपने राष्ट्रप्रेम के दम पर आज लाखों-करोड़ों देशभक्त युवाओं के दिलों की धड़कन बन चुके हैं यह महज एक व्यक्ति स्वरूप नहीं बल्कि उनके व्यक्तित्वों के आधार पर संभव हुआ है। कहा जाता है कि मानव योनि में जन्म लेने का मूल उद्देश्य मानवता की सेवा व रक्षा करना है जो कि सुधीर चौधरी जी ने करके दिखाया है। इस शाश्वत सत्य का इतिहास साक्षी है कि सत्य में देरी भले हुई हो मगर सत्य कभी पराजित नहीं हुआ है। सत्य को बहुत से लोग कह सकते हैं और कहते भी हैं पर सत्य को सलीके से कहना कोई सुधीर चौधरी जी से सीखे। मैनें उन्हें डी एन ए के कार्यक्रम में देखा है वो सच को दिखाने के लिए किस बारीकियों से हर कड़ी को जोड़ते हुए हर गुत्थियों को सुलझाते हुए घटनाक्रम का ऐसा मनोरम दृश्य पेश करते हैं कि ऐसा लगता है एक मझा हुआ कहानीकार वर्तमान की परिस्थितियों को सचित्र कथा पाठ कर रहा हो अतः यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि सुधीर चौधरी एक बेहतरीन वक्ता ही नहीं बल्कि एक सदृश्य घटनाचक्र के महान कहानीकार भी हैं।
वक्तव्य तो बहुत से लोग करते हैं मगर अपने वक्तव्य से जनता का ध्यान आकृष्ट कर लेने की बेहतरीन कला व क्षमता मैंने सुधीर चौधरी जी में देखी है वो जब भी किसी घटना के सच की व्याख्या को प्रस्तुत करते हैं तो उनकी आँखों में चमक माथे का तेज खुद ब खुद सच का समर्थन करने लगता है। उनकी बातों का जादू जनता के मन को छू जाती है जिन्हें बेहतरीन वक्ता कहना गलत नहीं होगा।
मेरी यह समीक्षा किसी व्यक्ति विशेष की नहीं है बल्कि राष्ट्रप्रेम व देशभक्ति से ओत-प्रोत उस व्यक्तित्व की है जिसका सरोकार न किसी जाति न किसी धर्म न किसी मजहब से है यह व्यक्तित्व किसी भी राजनीतिक दायरे से पूर्ण स्वतंत्र अपने विचारों को जनता के सम्मुख रखता है। सच कहने का जज्बा व माद्दा बहुतों में होता है पर अपने बात पर कायम रहना सबसे बड़ी महानता है जो सुधीर चौधरी जी में मैंने देखा है।
उनके डी एन ए कार्यक्रम में वर्तमान और इतिहास पर की गई हर समीक्षा अपने आप में अपार ज्ञान का भंडार प्रदान करती हैं जहाँ एक तरफ वर्तमान में हो रही घटनाओं के सच का खुलासा किया जाता है वहीं दूसरी तरफ इतिहास के मौजूद समाज की तमाम रूढ़ियों व कुरीतियों के सच से भी अवगत कराया जा रहा है जिससे समाज में जागरूकता का उत्थान हो रहा है इन सभी आधारों पर यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि सुधीर चौधरी जी एक अच्छे व्यक्तित्व के धनी एक सुप्रसिद्ध व सचेत सामाजिक कार्यकर्ता की भूमिका दृढ़तापूर्वक जनता के सम्मुख अदा कर रहे हैं।
अन्ततः यह कहूँगा कि जनता की आवाज का दूसरा नाम सुधीर चौधरी है जो अपने सत्य के डी एन ए व्याख्या हेतु लोगों के दिलों में बसते हैं जिनके लिए यह कहना गलत नहीं होगा कि डी एन ए का दूसरा नाम सुधीर चौधरी है। ऐसे सच्चे देशभक्त के व्यक्तित्व की समीक्षा करना मेरे लिए गर्व की बात है और आखिरकार ऐसा व्यक्तित्व किसका प्रेरणास्रोत नहीं होगा? इस व्यक्तित्व ने मुझे भी प्रभावित किया है ऐसे राष्ट्रभक्त व्यक्तित्व को मेरा सादर नमन!
जय हिन्द जय भारत-भारती