ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
 सपा जिलाध्यक्ष के घर के सामने पूर्व बसपा नेता पिंटू ठाकुर की हत्या
June 20, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • उत्तर प्रदेश
 दो बाइको पर आये चार बदमाशो ने की ताबडतोड फायरिंग
 किसी जमीनी विवाद पर बात करने के लिए पूर्व सपा नगर अध्यक्ष के पहुंचे थे घर
उत्तर प्रदेश- कानपुर नगर, छात्र राजनीति से लेकर दलीय राजनीति में स्वयं को स्थापित करने वाले, शहर में प्राॅपर्टी डीलर का काम करने वाले पिंटू सेंगर की शनिवार को जाजमऊ इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी गयी। पिंटू सेंगर छावनी क्षेत्र से विधानसभा सीट का चुनाव लडे थे। उनकी माता शांति देवी गजनेर की कठेठी से जिला पंचायत सदस्य है तो उनके पिता सोने सिंह गोगूमऊ के प्रधान है।
             छात्र राजनीति से अपनी शुरूआत करने वाल पिंटू सेंगर ने जल्द ही अपना नाम कमाते हुए राजनीति में कदम रखा। वह उस समय चर्चा में आये जब उन्होेन पूर्व मुख्यमंत्री बसपा सुप्रीमो को चांद पर जमीन देने की बात कही थी, जिसके बाद उन्होने वर्ष 2007 में कैंट सीट से बसपा की टिकट पर चुनाव भी लडा था। पिंटू सेंगर की सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष चंद्रेश सि हके घर के बाहर दो बाइक से आये चार बदमाषो ने ताबडतोड फायरिग कर हत्या कर दी। बताया जाता है कि जैसे ही वह चंद्रेश सिंह के निवास के बाहर इनोवा गाडी से निकले और सडक किनारे बात करही रहे थे कि दो बाइको पर सवार होकर आये चार बदमाशो ने उनपर फायरिंग कर दी। मौके पर लोगो ने बताया कि हमलावर हेलमेट लगाये हुए थे और उन्होने कई राउण्ड फायर किये। इसके बाद पिंटू सेंगर लहू-लुहान होकर जमीन पर गिर पडे। वहीं क्षेत्र में भगदड मच गयी। चालक तथा कुछ स्थानीय लोगो की मदद से उन्हे अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हे डाक्टरो ने मृत घोषित कर दिया।
चार बीघा जमीन विवाद को पर बात करने पहुंचे थे पूर्व सपा नगर अध्यक्ष के घर
राजनीति में होने के साथ ही पिंटू सेंगर प्राॅपर्टी का भी काम करते थे। जानकारी के अनुसार पूर्व सपा जिलाध्यक्ष चंद्रेश सिंह के घर उन्हे किसी चार बीघे जमीन के विवाद के मसले पर बात-चीत के लिए बुलाया गया था। पुलिस इसे भी हत्या का एक ऐंगल मान रही है। बतातें चले कि पूर्व में 2017 में भी पिंटू पर जानलेवा हमला हो चुका है। घटना के बाद मौके पर एसएसपी दिनेश कुमार सहित अन्य अधिकारी भी पहुंच गये तथा घटना स्थल को सील करते हुए साक्ष्यो को जुटाया जा रहा है। एसएसपी दिनेश कुमार ने कहा कि मौके से 32 बोर के छह खोखे बरामद कि अन्य साक्ष्यों को भी जुटाया जा रहा है। अभी घटना के पीछे कौन है और क्या कारण है इसका पता नही चल सका है। तथ्यों के आधार पर गिरफ्तारी की जायेगी साथ ही मृतक के परिजनो से भी पूंछतांछ की जायेगी। उन्होने कहा सभी बिंदुओ को देखते हुए ही आगे की कार्यवाई की जायेगी।

HARI OM GUPTA