ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज दशहरा व दिवाली विशेष
   साथियों वोट  देने चलो 
October 24, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • कविता
साथियों वोट देकर बनो लोकतंत्र का पहरेदार
वोट से करो बदलाव नेता के बदलो हाव - भाव 
आप साथी सही उम्मीदवार का करना चुनाव
भूलकर भी बेईमानों को मत देना आप भाव 
देखो साथी आपका वोट है आपकी ताकत 
हम सभी का लोकतंत्र  में यही तो ताकत है 
वोटर आईडी संग लेते जाना सुबह में ही आप
ध्यान रहे साथियों उस इंसान को देना वोट
जो हो सच्चा ईमानदार लोकतंत्र की प्रहरी हो
मतदान के दिन घर में ही आप ना रह जाना 
वरना पांच साल पड़ेगा सहना साथियों
कुछ लोग तो लोकतंत्र  का आनंद उठाते हैं
फिर ऐसे लोग वोट क्यों नहीं दे आते ?
याद रखना आप वोट से आएगा बदलाव
समाज सुधरेगा, कम होगा तनाव साथी
लोकतंत्र की लाज बचाने वालों की पहचान करो
घर से निकलें बाहर आए मिलकर मतदान करो
अगर कुछ ना समझ में आए तो नोटा ही दबा देना
 लेकिन लोकतंत्र की मजबूती के लिए वोट जरूर करें
अधिकारों की खातिर हम सभी को लड़ना होगा
चाटुकारिता व लालच से दूर सदा रहना होगा
साथियों हमें चोर-उचक्कों से क्या डरना ?
आओ हम सभी  ऐलान करें घर से निकले
मिलकर मतदान करके लोकतंत्र को मजबूत करें।।