ALL उत्तर प्रदेश बिहार मध्य प्रदेश लेख कहानी कविता अन्य खबरें न्युज
लावणी छन्द गीत
March 31, 2020 • Brajesh Kumar Mourya • कविता
है हावी कोरोना जग पर,निपटेंगे हुशियारी से ।
जनहित के नियमों का पालन ,करलें जिम्मेदारी से ।
 
रोग भयंकर अरु निदान के ,कहीं लगे आसार नहीं ।
दूरी सबसे हुई जरूरी ,दूजा कुछ उपचार नहीं ।
इस संकट से हमें उबारो ,विनती है गिरधारी से ।।1।।
जनहित के नियमों का पालन .........।
 
भली-भांति हाथों को धोएं ,मूहँ मास्क से ढकना हैं ।
बाहर से कोई आये तो ,सेनिटाइज करना है।
खतरा टल जाए मत डरना ,मनुज किसी दुश्वारी से ।।2।।
जनहित के नियमों का पालन  .........।
 
द्रवित हृदय है,ख़ौफ़ बढ़ा है ,फिर नर क्या मगरूरी है ।
लॉकडाउन का पूर्ण रूप से ,पालन हुआ जरूरी है।
अब घर में रह तनिक कटो तुम,दुनियां, दुनियादारी से ।।3।।
जनहित के नियमों का पालन .........।
 
 
श्री मोदी  आग्रह का पालन,करलो इक्किस दिवस सभी ।
हर इक जरुरत की व्यवस्था है ,पाँव बांध लो जरा अभी ।
धीर धरो संयम मत खोना ,क्या हो मारामारी से ।।4।।
जनहित के नियमों का पालन  .........।